तुझसे अच्छा कुत्ता है जो जमीन साफ करके बैठता है

0
58

इन बातों पर ही आचार्य विमल सागर जी महाराज मुनि बने हैं
नैनवा जिला बूंदी संवाददाता द्वारा
30 जुलाई रविवार 2023
मुनि प्रज्ञा सागर जी महाराज तपोभूमि उज्जैन
महावीर स्वामी नयन पथ गामी पुस्तक में पृष्ठ संख्या 113 पर

ग्रहस्थ जीवन में नेमीचंद से अपने पिता बिहारी लाल जी ने कहा तुझसे अच्छा कुत्ता है जो जमीन साफ करके बैठता है इसी बात पर नेमीचंद ने चंद दिनों में बिहारी लाल जी को पद बिहार बनकर दिखाऊंगा ऐसा मन में निश्चय कर लिया

मैं मुनि बनकर पीछी धारण कर जीव न भर जहां भी बैठु वहां पिछली पिछी लगा कर बैठूंगा और पद बिहारी बनकर दिखाऊंगा
बंधुओं जरा सी बात पर नेमीचंद
विमल सागर जी महाराज बने यह उनकी त्याग तपस्या जो आज संपूर्ण जैन बंधु उनके पद चिन्हों पर चलकर जैन धर्म के अश्व परंपरा परंपरा को निभा रहे हैं
बात छोटी थी लेकिन छोटी सी बात ही एक महान आचार्य का रूप में परिवर्तित हो गई
महावीर कुमार जैन सरावगी जैन गजट संवाददाता नैनवा जिला बूंदी राजस्थान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here