सुख अपने अंदर है: आचार्य प्रमुख सागर

0
76
गुवाहाटी : स्थानीय फैंसी बाजार स्थित भगवान महावीर धर्म स्थल में विराजित आचार्य श्री प्रमुख सागर महाराज ससंघ के सानिध्य में आज प्रात:श्रीजी की शांतिधारा करने का परम सौभाग्य ओम प्रकाश – प्रभा देवी सेठी परिवार गुवाहाटी / बेंगलुरु को प्राप्त हुआ। तत्पश्चात आचार्य श्री ने अपने सांयकालीन प्रवचन मे श्रोताओं को संबोधित करते हुए कहा की सुख और दुख एक कल्पना मात्र है । जो वस्तु मन को भाय तो सुखी करती है और मन से उतर जाए तो दुखी करती है। आचार्य श्री ने कहा कि जब मनुष्य अपने जीवन में किसी एक चुनौती को जीवन का केंद्र मान लेता है, तब वह जीवन में सफलता प्राप्त नहीं कर पाता। इंसान को जीवन में अपनी इच्छाओं के अनुरूप जीने के लिए जुनून की आवश्यकता होती है, वरना हर इंसान की परिस्थितियां तो हमेशा विपरीत होती है। जो है, जितना है, उसी में खुश रहना चाहिए क्योंकि जरूरत से ज्यादा रोशनी भी इंसान को अंधा बना देती है। सुख के लिए अपने आप से जुड़ने का प्रयास करो, अपने आप से जुडो़गे तो सुखी हो जाओगे। इंसान को हर परिस्थिति में खुश रहना चाहिए।इसी मे सच्चा सुख है। इस अवसर पर चंद्रप्रभु चेत्यालय में  रोजाना  संध्याकालीन श्रीजी की आरती महावीर स्थल आरती ग्रुप के सदस्यों द्वारा की जा रही है। यह जानकारी समाज के प्रचार प्रसार विभाग के मुख्य संयोजक ओम प्रकाश सेठी एवं सह संयोजक सुनील कुमार सेठी द्वारा दी गई है।।
*सुनील कुमार सेठी*
       गुवाहाटी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here