संत का आना ही पुण्य का उदय है

0
72

गणिनी आर्यिका रत्न संगम मति माताजी
नैनवा संवाददाता महावीर सरावगी

25 जुलाई मंगलवार 2023
जैनियो का सबसे बड़ा सिद्धक्षेत्र तारंगाजी गुजरात
प्रातः 8:00 बजे सिद्धक्षेत्र तरंगाजी
जिनालय में वर्षा योग कर रहे गुरु माता ने बताया कि संत आने पर पूरा नगर शहर गांव में एक उत्सव जैसा माहौल हो जाता है

संतों के आगमन पर पूरे नगर में खुशहाली होती है
संत जिनालय तीर्थों के दर्शन के लिए पैदल लंबी लंबी यात्राएं कर पहुंचते हैं और प्रतिमाओं के दर्शन कर पुण्य प्राप्त होना बताया है
संतआने का कभी भरोसा नहीं होता संत पुण्य उदय से आते हैं
माता ने बताया
काजल से काला कलंक!पृथ्वी से पतला ज्ञान! पृथ्वी से भारी पाप बताया!
घर गृहस्ती में किए गए पाप मंदिर में धोए जाते हैं मंदिर में किए गए पाप कहीं पर धोने की जगह नहीं होती ऐसा माता ने अपने उद्बोधन में बताया

सिद्धक्षेत्र तरंगाजी की अद्भुत प्रतिमाओं के दर्शनों का लाम बहुत ही पुण्य साली जीव को ही प्राप्त होता है यहां आकर अपना सौभाग्य समझना चाहिए ऐसा माता ने बताया

महावीर कमार जैन सरावगी जैन गजट संवाददाता नैनवा जिला बूंदी राजस्थान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here