गणिनी आर्यिका स्वस्ति भूषण माता जी का शिवपुरी में भव्य मंगल प्रवेश हुआ

0
12

जैन गजट संवाददाता महावीर सरावगी नैनवा
1 फरवरी 2024 गुरुवार को शिवपुरी में जैन समाज की सर्वोच्च साध्वी 105 आयिका का स्वास्तिक भूषण माताजी का शिवपुरी के पार्श्वनाथ दिगंबर जैन अतिशष क्षेत्र छत्री मंदिर में गाजे बाजे के साथ भव्य मंगल प्रवेश हुआ
माताजी सिद्ध क्षेत्र सोनागिरी जी से पैदल मंगल विहार करते हुए पहुंची है
वर्षा योग में अनेक धार्मिक कार्यक्रमों के साथ माताजी ने सहस्त्र कुटजिनालय
जैनाचार्य सिद्धार्थ प्रवचन विद्याभूषण आचार्य सन्मति सागर गुरु मंदिर का शिलान्यास भी किया
नगर के वरिष्ठ समाजसेवी महेंद्र जैन भयन जैन ने बताय की 14 वर्ष पूर्ण माताजी शिवपुरी आई थी तब माताजी द्वारा शिक्षक शिविरों में माध्यम से बहुत ही धर्म प्रभावना की थी माता जी के मंगल प्रवेश से शहर में काफी हर्ष है जैन समाज की अपार महिलाओं बालिकाओं ने नगर की सीमा के बाहर पहुंचकर ढोल नगाड़ों रंगोली के साथ जिनालय में भव्य प्रवेश कराया गांव के सभी युवा सफेद ड्रेस में हाथों में जैन ध्वज लेकर चल रहे थे जैन धर्म की जय जयकार बोलते हुए चल रहे थे शन

दिगंबर जैन अतिशय पार्श्वनाथ मंदिर में पहुंचकर माता ने धर्म सभा को संबोधित करते हुए बताया जब जब भी नगर में साधु के मंगल प्रवेश होते हैं तब एक उत्सव जैसा माहौल हो जाता है
साधु को लेने जाने पर अगर के अन्य लोग भी यह देखते हैं जैन समाज में कोई बहुत बड़ा जैन महात्मा नगर में प्रवेश होने वाला है सभी लोग अगवानी में पहुंचकर बहुत बड़ा धर्म की प्रभाव न का अंग होना आयिका ने बताया
यह भी बताया जब जब साधु का गांव में नगरों में शहरों में मंगल प्रवेश होता है तो अखबारों में बड़े-बड़े अक्षरों में उसे गांव का नाम भी प्रचलित होता है की अमुख गांव के अंदर साधु का मंगल प्रवेश हुआ है
गांव की बहुत बड़ी शोभा माता ने होना बताया
स्वस्ति धाम जहाजपुर पूरे भारत में जानने वाला अतिशय क्षेत्र है इसकी प्रेरणादायक आयिका स्वस्ति भूषण माता जी के प्रेरणा से ही यह क्षेत्र दिन दुगना रात चौगुन प्रगति की ओर अग्रसर है जहां भी इन माता जी का मंगल प्रवेश हुआ है वह शहर एक उत्सव के जैसा माहौल हो जाता है

महावीर कुमार जैन सरावगी जैन गजट संवाददाता नैनवा जिला बूंदी राजस्थान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here