आत्मा का जिनवाणी के ज्ञान से कल्याण होगा – आचार्य 108 विवेक सागर महाराज

0
225

नैनवा 25 मार्च 2023 शनिवार को प्रातः 8:30 पर अग्रवाल दिगंबर जैन बड़ा मंदिर में आचार्य विवेक सागर महाराज ने धर्म सभा को संबोधित करते हुए बताया व्यक्ति को समय की पहचान नहीं होती निकल जाने पर चिड़िया खेत को चुग जाती है पीछे पश्चाताप के अलावा कुछ नहीं होता। स्कूल में छोटे नन्हे बच्चों को अ आ से ज्ञान कराने पर 52 आक्षरो का ज्ञान होने पर ही बच्चा पुस्तक पढ़ सकता है। आत्मा में जिनवाणी का एक अक्षर का ज्ञान प्राप्त नहीं होने पर आत्मा का कल्याण कभी नहीं होगा। गुरु को नमस्कार कर विनय करने से मनुष्य जीवन की सार्थकता की पहचान होती है। महावीर जयंती महोत्सव मनाने पर महावीर के सिद्धांतों उपदेश को ग्रहण करना चाहिए।

मुनि ने जैन कुल में जन्म लेने की तीन मुख्य पहचान बताएं-

  • 1 नित्य देव दर्शन करना
  • 2 पानी छानकर पीना
  • 3 रात्रि भोजन का त्याग

27 मार्च को आदिनाथ मंडल विधान अग्रवाल जैन बड़े मंदिर में दोपहर को होगा दिगंबर जैन समाज देई युवासंगठन नैनवा द्वारा महावीर जयंती महोत्सव पर मनाने के लिए आचार्य को श्रीफल भेंट किया धर्म सभा का मंगलाचरण महावीर सरावगी द्वारा किया किया गया जैन मुनि 108 अर्चित सागर महाराज ने बताया संयम धारण करके प्रभु की भक्ति करना चाहिए/अ/शब्द प्रर मुनिबताया अ से अच्छा ही होगा अच्छी भक्ति अच्छा सेवा अच्छा धर्म /बुरे शब्द से बुरा होता है
सुनो बुरा मत कहो/बुरा मत सुनो बुरा मत सुनो सीता सती ने पति की अग्नि परीक्षा के लिए अग्नि मेंजाते हुए
णमोकार महामंत्र का जाप जपने से अग्नि का नीर हो गया था मंत्र का प्रभाव था

-महावीर कुमार सरावगी जैन समाज प्रवक्ता

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here