सादपुर ग्राम के इतिहास में पहली बार हो रहा पंचकल्याणक

0
8

घटयात्रा , ध्वजारोहण के साथ प्रारंभ हुआ महोत्सव

(राजेश रागी/रत्नेश जैन बकस्वाहा)

बकस्वाहा । निकटवर्ती ग्राम सादपुर के इतिहास में पहली बार होने जा रहे पंचकल्याणक ,गजरथ महोत्सव की शुरुआत रविवार 28 जनवरी को घटयात्रा जुलूस , ध्वजारोहण एवं विविध कार्यक्रमों के साथ की गई ,जो 2 फरवरी को समापन समारोह गजरथ के साथ किया जायेगा। इस भव्य महोत्सव में भारत गौरव गणाचार्य श्री विराग सागर जी महाराज के परम प्रभावक शिष्य जनसंत उपाध्याय श्री विरंजन सागर जी महाराज ससंघ के मंगल सानिध्य में होंने जा रहा है।
महोत्सव के प्रारम्भ में गर्भ कल्याणक की पूर्वार्द्ध की क्रियाएं की गई , प्रातः पूजन अभिषेक विधान,देवाज्ञा,गुरु आज्ञा के उपरांत ग्राम के जैन मंदिर से घटयात्रा का जुलूस निकाला गया जिसमें पूज्य गुरुदेव उपाध्याय श्री विरंजन सागर जी महाराज के संघस्थ मुनि श्री विश्वदृग जी महाराज व मुनि श्री विसौम्य सागर जी महाराज तथा त्रय माताजी सहित छै: पिच्छिका धारियों का ससंघ चल रहा था और विशेष आकर्षक वेशभूषा में इंद्र इंद्राणी, महिला युवक युवती जैन ध्वज लिए दिव्यघोष व ब्रास बैंड के धुन पर नृत्य करते हुए चल रहे थे। जुलूस महोत्सव स्थल विशाल पंडाल तक पहुंचा ,जहां पर प्रतिष्ठाचार्य पंडित जी द्वारा मंडप , बेदी शुद्धि कराई गई ,विमल कुमार जैन घूघस बाले आयरन स्टोर वटियागढ परिवार ने ध्वजारोहण किया ,मंडप उद्घाटन उत्तम चंद्र आकाश जर्दा बण्डा परिवार ने किया,चित्र अनावरण व दीप प्रज्ज्वलन बकस्वाहा,हटा , रजपुरा, मडियादो, बरोदा,दमोह,बाजना दरगुवां, बड़ामलहरा, भगवां, घुवारा, शाहगढ़, बम्हौरी, इंदौर आदि के समाजसेवियों द्वारा किया गया, शास्त्र भेंट नेमीचन्द्र मनोज कुमार परिवार ने मुनि संघ को किया। इस अवसर पर सकलीकरण,इंद्र प्रतिष्ठा, मण्डप प्रतिष्ठा,यागमण्डल विधान किया गया। शायंकाल की बेला में आरती ,इंद्र सभा,कुवेर द्वारा नगरी की रचना, रत्न वृष्टि, अष्ट कुमारी व छप्पन कुमारियों द्वारा तीर्थंकर आदि कुमार की माता जी की सेवा तथा चक्रेश कलाकार द्वारा माताजी के सोलह स्वप्न दिखायें गये।
महोत्सव के अध्यक्ष अशोक मझगुवां बाले बकस्वाहा ने बताया कि ग्राम सादपुर में जैन समाज के कुछ ही घर निवास करते हैं जहां पर नवीन जिनालय का निर्माण कराया गया है जिसमें मूलनायक भगवान धर्मनाथ सहित कई जिनबिम्ब वेदिका पर विराजमान किए जाने हेतु पंचकल्याणक प्रतिष्ठा महोत्सव सातपुर के इतिहास में पहली बार आयोजित किया जा रहा है , जिसमें पूज्य उपाध्याय श्री विरंजन सागर जी महाराज ससंघ का मार्गदर्शन आशीर्वाद से यह सब सम्भव हो पा रहा है।

🙏 वरिष्ठ पत्रकार राजेश जैन रागी/रत्नेश जैन बकस्वाहा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here