राष्ट्रीय अनेकान्त एकेडमी आघ्यात्मिक विचारों की राष्ट्रीय अकादमी

0
185

सम्मेद शिखर तीर्थ बचाओ आन्दोलन पद्म श्री कैलाष मड़बैया के नेतृत्व में मध्यदेशीय जैन समाज ने दिया राज्यपाल को ज्ञापन भोपाल,12 दिसम्बर,जैन – धर्मावलम्बियों के सिरमौर तीर्थ सम्मेद शिखर जी, पावन , झारखंड को भारत सरकार के पर्यटन मंत्री द्वारा अकारण ही पर्यटन केन्द्र घोषित करने से,पुण्य तीर्थराज की पावनता को खतरा पैदा होने के कारण सम्पूर्ण देश में शिखर जी तीर्थ बचाओ आन्दोलन द्वारा विरोध प्रदर्शन किया गया। मध्यप्रदेश की जैन समाज ने अपना रोष व्यक्त करते हुये, प्रमुख जैन प्रतिनिधियों ने 11 दिसम्बर को राज्यपाल म.प्र. को अपना ज्ञापन सौंपा।

वरिष्ठ साहित्यकार पद्म श्री डॉ.कैलाश मड़बैया अध्यक्ष अनेकान्त ऐकडमी के नेतृत्व में, श्री मनोज जैन बॉंगा अध्यक्ष चौक जिनालय, श्री अमर जैन अध्यक्ष टीन सैड जैन मंदिर,राजेन्द्र जैन एवं अन्य मंदिरों के अध्यक्ष आदि अनेकानेक समाज के 31प्रतिष्ठितजन राजभवन में एकत्रित हुये। राज्यपाल की अनुपस्थिति के कारण ज्ञापन राजभवन के प्रतिनिधि अधिकारी श्री अनिल जी ने स्वीकार किया। इस अवसर पर श्री कैलाष मड़बैया ने सम्मेद षिखर जी की वर्तमान स्थिति पर उपस्थितजनों को सम्बोधन भी दिया। समस्त जैन महिलाओं व पुरुषों ने शिखर जी तीर्थ बचाओं के नारे भी लगाये।

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here