जीवन आशा हॉस्पिटल, मंशापूर्ण भगवान महावीर और आचार्य पुष्पदंत सागर महाराज के दर्शनों के लिए गया 200 श्रद्धालुओं का दल आशीर्वाद प्राप्त कर लौटा

0
62

जयपुर। आचार्य सौरभ सागर महाराज से मंगल आशीर्वाद प्राप्त कर प्रताप नगर सेक्टर 8 दिगंबर जैन मंदिर से मुजफ्फरनगर और गाजियाबाद गया 200 श्रद्धालुओं का दल सोमवार को लौटा, आचार्य श्री सानिध्य में 21 जुलाई से चले पंच दिवसीय महाअर्चना विधान पूजन में शामिल 200 श्रद्धालुओं को श्री पुष्पवर्षा योग समिति द्वारा निशुल्क यात्रा करवाई गई, इस यात्रा का आयोजन शनिवार को रात्रि 8 बजे से आयोजन किया गया, जिसें समाजसेवी राजीव सीमा जैन गाजियाबाद वाले और रमेश, आलोक जैन तिजारिया द्वारा हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया था। इस यात्रा में शामिल सभी श्रद्धालुओं ने रविवार को सर्व प्रथम गाजियाबाद स्थित मंशापूर्ण भगवान महावीर जिनालय के दर्शन, कलशाभिषेक, शांतिधारा और पूजन कर श्रीजी का आशीर्वाद लिया, इसके पश्चात आचार्य सौरभ सागर महाराज की प्रेरणा से गाजियाबाद में बने विकलांगों के हॉस्पिटल जिसमें प्रत्येक विकलांगों का पूरा इलाज निशुल्क किया जाता है, उनके रहने, खाने की निशुल्क व्यवस्था की जाती है ऐसे सर्वोच्च स्थल जीवन आशा हॉस्पिटल का अवलोकन किया।

समाजसेवी आलोक जैन तिजारिया ने बताया की संपूर्ण भारत में एक मात्र ऐसा हॉस्पिटल है जहां आचार्य श्री की मंगल प्रेरणा से विकलांग नागरिकों का पूरा इलाज बिल्कुल फ्री में उपलब्ध करवाया जाता। इस कार्य के लिए आचार्य सौरभ सागर चेरिटेबल ट्रस्ट का बनाया गया है जिसमें दिल्ली, यूपी, एमपी, हरियाणा, उतराखड, राजस्थान के हजारों समाज सेवी श्रद्धालुगण अपना योगदान देकर लोगों के जीवन को नई आशा देते है। इस हॉस्पिटल में ऐसे टैलेंटेड लोगों का इलाज हो चुका है जिन्होंने देश के राष्ट्रीय खेल, भारत खेलों जैसे अभियान में हिस्सा लेकर गोल्ड मेडल तक जीतकर आए है। जयपुर से गए सभी श्रद्धालुओं ने ऐसे हॉस्पिटल के दर्शन किए है जो किसी तीर्थ यात्रा से कम नहीं है इंसानियत को स्थापित करने की सबसे बड़ी मिशाल है जिसमें ना किसी की जाति पूछी जाती है ना किसी का धर्म पूछा जाता है केवल सेवा की जाती है मरीजों को केवल जीने की नई आशा दी जाती है।

जीवन आशा हॉस्पिटल की यात्रा कर सभी श्रद्धालु मुज्जफरनगर के लिए प्रस्थान कर गए, इस वर्ष गणाचार्य पुष्पदंत सागर महाराज का चातुर्मास मुज्जफरनगर में संपन्न हो रहा है, सभी श्रद्धालु रविवार शाम को मुज्जफरनगर पहुंचे जहां सभी ने गणाचार्य श्री का आशीर्वाद और आशीर्वचन प्राप्त कर पूज्य गुरुवर की भजन – भक्ति के साथ महामंगल आरती की और रात्रि में वापस जयपुर के प्रस्थान कर गए जो सोमवार को सुबह 7 बजे के लगभग जयपुर पहुंचे।

श्रावक संस्कार शिविर 24 अगस्त से, समाज के 40 की उम्र तक के युवा ले सकेगें भाग

मुख्य समन्वयक गजेंद्र बड़जात्या ने बताया की आचार्य सौरभ सागर महाराज के सानिध्य में ” श्रावक संस्कार शिविर ” का 6 दिवसीय आयोजन 24 से 29 अगस्त तक प्रताप नगर सेक्टर 8 स्थित शांतिनाथ दिगंबर जैन मंदिर के मुख्य पांडाल में आयोजित किया जाएगा। यह शिविर पूरी तरह से युवाओं को धर्म के संस्कार देने को लेकर है और इसमें केवल समाज का युवा वर्ग जिसकी अधिकतम आयु 40 वर्ष है तक के विवाहित, अविवाहित और बालक – बालिकाएं ही भाग ले सकेंगे। इस कार्यक्रम को लेकर श्री पुष्प वर्षा योग समिति द्वारा राकेश जैन पचाला और मनीष जैन टोरडी को मुख्य संयोजक बनाया है। इस शिविर में भाग लेने वाले सभी युवा ना केवल आचार्य श्री के सानिध्य में धर्म के संस्कारों की पाठशाला को ग्रहण करेगे बल्कि साथ ही आध्यात्मिक उन्नति की शिक्षा भी प्राप्त करेगे। इसके अलावा जीवन में धर्म के महत्व को भी समझेंगे।

अभिषेक जैन बिट्टू
मो – 9829566545

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here