इस दुनिया में जो भी इन्सान आया है उसका मरणकाल निश्चित है इस काल चक्र को कोई रोक नहीं सकता है

0
58

प्रसिद्ध समाजसेवी देव ,शास्त्र ,गुरु के परम भक्त परम श्रद्धेय श्री लालचंद जी बिन्दायका बगरू वाले जयपुर निवासी का आज से दो वर्ष पूर्व 23.12 .2021 को सभी परिवार जनों के बीच उनका हर्षोल्लास से कलकत्ता में उनका जन्मदिन मनाया था, उनके मंजले पुत्र समाज शिरोमणि श्री निर्मल कुमार जी बिन्दायका ने उनका स्मरण करते हुए बताया कि सबसे ख़ुशी की बात यह रही कि हमारा भरा पूरा परिवार जो कि उनसे हज़ारों किलोमीटर दूर कलकत्ता में रहता था उस समय सब परिवार जन उनके पास ही थे आश्चर्य की बात है कि उनके स्वर्गवास के चार दिन पहले ही ख़ूब धूमधाम से उनका जन्मदिवस मनाया गया था और क़रीब एक महीना पहले से ही सब उनके साथ थे वो दिन वो घड़ियाँ याद आती है हमारे कलकत्ता निवास का ऐसा माहौल कभी नहीं रहा मुझे लगता है लंबे समय तक सबका इस तरह से एक साथ रहना एक सपना ही होगा ….वाह हमारे बाउजी …आपने अपना अंतिम समय इतना सुंदर से बिताया कोई बिरले ही ऐसे होते हैं आपका आशीर्वाद हम सब पर ख़ूब ख़ूब रहा है हम ईश्वर से कामना करते हैं आपका आशीर्वाद जीवन भर ऐसे ही बना रहे।स्व. श्री लालचंद बिन्दायका के बड़े पुत्र जयकुमार बिन्दायका जो दुर्गापुरा जयपुर में निवास करते हैं उनसे जानकारी पर ज्ञात हुआ कि उनके जन्मदिन पर परिवार जनों ने कोलकाता के एक जाने माने अस्पताल में श्री बिन्दायका जी के नाम पर बहुत बडी राशि का दान देकर चंचला लक्ष्मी का सदुपयोग कर पुण्यार्जन प्राप्त किया। उनके तीन पुत्र एवं तीन पुत्रियां हैं जो आज भी सभी में विशेष आत्मीयता एवं प्यार है ओर सभी एक दूसरे के सुख सुख के साथी है,यह सभी उनके प्यार एवं आशीर्वाद का ही फल है,उनका हर्षोल्लास से जन्मोत्सव मनाने के चार दिवस बाद ही हंसमुख एवं स्वस्थ रहते हुए 27. 12.2022 को स्वर्गवास हो गया भगवान को यही मंजूर था, स्व.श्री लाल चंद जी बिन्दायका की पुण्यतिथि पर कोलकाता,सूरत,श्री चंद्र प्रभ चैरिटेबल ट्रस्ट संस्था एवं मंदिर समिति दुर्गापुरा जयपुर, मदनगंज किशनगढ़, तथा बगरू ,सहित सारे जैन समाज के सभी पदाधिकारियों ने भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित कर सुख शांति की कामना की है।

राजाबाबु गोधा जैन गजट संवाददाता राजस्थान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here