अंतिम विदाई होने पर भी जैन दूसरों को दिखा गए आखो से रोशनी

0
71

महावीर सरावगी संवाददाता द्वारा
नैनंवा 25 अक्टूबर बुधवार को दिगंबर जैन खंडेलवाल सरावगी समाज के स्वर्गीय महावीर प्रसाद जैन ठोलिया 82 का अकस्मात निधन होने से संपूर्ण हाडोती संभाग में शोक की लहर दौड़ गई
आप जाते-जाते भी अपनी दोनों आंखों का दान कर गए परिवार जनों ।जिन्होंने कोटा से आंखों की टीम के डॉक्टर उकृष्ट मिश्रा ने बिना चीर फाड़ के 10 मिनट में दोनों आंखों को बिना ऑपरेशन के निकाला

आप बहुत ही धार्मिक प्रवृत्ति मिलनसार धार्मिक कार्य में अग्रसर रहने में आपने अपनी अनोखी पहचान बनाई
डॉक्टर ने बताया जिनको आंखों के बिना देख नहीं सकते उन लोगों की आंखें लगाने पर वह संसार की हर गति विधि को आम आदमी की तरह देख सकता है आंखों का दान बहुत बड़ा उपकार बताया
स्वर्गीय महावीर ठोलिया जाते-जाते आंखों में रोशनी दे गए
आप अपने पीछे पाच पुत्र एक पुत्री छोड़ कर गए हैं महेंद्र दिनेश राजेंद्र जिनेंद्र अनिल जैन ठोलिया सरोज पुत्री

महावीर कुमार जैन सरावगी जैन गजट संवाददाता नैनवा जिला बूंदी राजस्थान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here