अगर आदमी में संकल्प शक्ति, सच्ची लग्न और धैर्य हो, तो वह बड़ी से बड़ी जंग जीत सकता है.

0
49
अगर आदमी में संकल्प शक्ति, सच्ची लग्न और धैर्य हो, तो वह बड़ी से बड़ी जंग जीत सकता है.          अन्तर्मना आचार्य श्री 108 प्रसन्न सागर जी   औरंगाबाद  उदगाव नरेंद्र /पियूष जैन भारत गौरव साधना महोदधि    सिंहनिष्कड़ित व्रत कर्ता अन्तर्मना आचार्य श्री 108 प्रसन्न सागर जी महाराज एवं सौम्यमूर्ति उपाध्याय 108 श्री पीयूष सागर जी महाराज ससंघ का महाराष्ट्र के ऊदगाव मे 2023 का ऐतिहासिक चौमासा   चल रहा है इस दौरान  भक्त को
_कठिनाइयों से घबराइए मत!_
रात जितनी काली होगी, सुबह उतनी ही जल्दी होगी। एक संकल्प आपको महान बना सकता है । हम चाहें तो पैदा कर दे चट्टानों मे राहें। अहो से तो हालात बदलने से रहे। आदमी अगर कुछ करने की, कुछ होने की ठान ले, तो क्या नहीं कर सकता है? और क्या नहीं हो सकता है? कालीघाट के फुटपाथ पर, चने खाकर रात गुजारने वाला लड़का, भारत का सर्वोच्च संगीतज्ञ उस्ताद अलाउद्दीन खां बन जाता है। तीन रूपये की पूंजी से, व्यवसाय करने वाला व्यक्ति भारत का शिखर धनपति कुबेर बिड़ला बन जाता है। अपने घर से भागकर, महज चार आने की सिर दर्द की दवाई तैयार करके, सड़कों पर बेचने वाला अमृतांजन लिमिटेड का करोड़पति मालिक हो जाता है। और अमेरिका की सड़कों पर मामूली चीजों को बेचने वाला गरीब लड़का धनकुबेर रॉकफेलर बनजाता है। और अपने देश का, एक चाय बेचने वाला देश का प्रधानमंत्री बन जाता है।
अगर आदमी में संकल्प शक्ति, सच्ची लग्न और धैर्य हो, तो वह बड़ी से बड़ी जंग जीत सकता है,, ऊंची से ऊंची चढ़ाई चढ़ सकता है, और दुनिया में हर रोज नए नए कीर्तिमान खड़े कर सकता है। बशर्ते कि उसमें संकल्प शक्ति हो, सहनशक्ति* हो।
_सुनने की कला और झुकने की कला* हो तो हम पत्थर में छेद कर *पानी में आग लगा सकते हैं…!!!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here