मुनिसुव्रतनाथ भगवान का जन्म तप कल्याणक महामहोत्सव हर्षोल्लास के वातावरण में मनाया

0
127

बून्दी – परम पूज्य मुनि श्री विश्रान्त सागर जी महाराज की पावन प्रेरणा से निर्मित मधुबन कॉलोनी स्थित 1008 श्री मुनिसुव्रतनाथ दिगंबर जैन मंदिर में मुनिसुव्रतनाथ भगवान का जन्म एवं तप कल्याणक महामहोत्सव शनिवार को हर्षोल्लास के वातावरण में श्रद्धा भक्ति और समर्पण के साथ मनाया । आयोजन से जुडे़ नमन जैन ने बताया विधि विधान की क्रियाएं पंडित मयंक शास्त्री द्वारा सम्पन्न कराई । प्रातः काल महामस्तकाभिषेक एवं बड़े बाबा के मस्तक पर शान्तिधारा हुई जिसमें प्रथम महामस्तकाभिषेक का सौभाग्य पारस कुमार, पदमकुमार पाटनी परिवार एवं शान्तिधारा का सौभाग्य कैलाशचन्द मनीष कुमार धनोप्या परिवार, ओमप्रकाश अरुण कपिल बाकलीवाल परिवार एवं नेमीचन्द मनोज कुमार सेठिया परिवार को प्राप्य हुआ ।

मंदिर समिति के अध्यक्ष दुर्लभ जठ्यानीवाल आंतरदा एवं सचिव महावीर जैन रिहाणा ने बताया कि शांतिधारा के पश्चात प्रभात फेरी निकाली गई जो कि मंदिर परिसर से रवाना होकर आर के पुरम, सिलोर रोड़, अम्बेडकर सर्किल होते हुए वापस मधुबन कॉलोनी स्थित जैन मन्दिर पहुंची । दोपहर में जैन मन्दिर में मुनिसुव्रतनाथ मंडल विधान पूजन हुआ । जिसमें मयंक शास्त्री एवं सीमा कोटिया ने विधान की क्रियाएं सम्पन्न करवाई और जयपुर से पधारे संगीतकार नवीन एण्ड पार्टी ने स्वरलहरियां बिखेरी । सकल जैन समाज के मंत्री दिनेश जैन एवं मनीष धनोप्या ने बताया कि संगीत की सुमधुर ध्वनियो के साथ मुनिसुव्रतनाथ विधान का आयोजन हर्षोल्लास के वातावरण में किया ।

श्रद्धालुओं ने भक्ति भाव पूर्ण नृत्य किये। सांयकाल 48 मंगल दीपकों से महाआरती एवं भजन संध्या का आयोजन हुआ । इससे पूर्व मन्दिर परिसर में शुक्रवार को सांयकाल सांस्कृतिक संध्या का आयोजन हुआ जिसमें स्थानीय महिला मंडल एवं बालक बालिकाओं द्वारा कई भक्ति नृत्य एवं नाटिका प्रस्तुत की गई। जिसमें मुनिसुव्रतनाथ स्वामी के गर्भ एवं जन्म कल्याणक की क्रियाओं का मंचन किया गया। इस दौरान मनोज लाम्बाबांस, नरेश बाकलीवाल, नरेश पापड़ीवाल, दिनेश सेठिया, मनन जैन, अशोक बरमुंडा, छुट्टन बाकलीवाल, दिनेश पाटनी सहित बड़ी संख्या में समाजबंधु मौजूद रहे ।

-रविन्द्र काला जैन गजट पत्रकार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here