सिद्धचक्र महामंडल विधान में 32 अर्घ्य समर्पित किए गए

0
48
प्रागैतिहासिक अतिशय क्षेत्र नवागढ़ में सिद्धार्चना में बह रही भक्ति की बयार
सिद्धचक्र महामंडल विधान में 32 अर्घ्य समर्पित किए गए
ललितपुर । प्रागैतिहासिक अतिशय क्षेत्र नवागढ़ विकासखंड महरौनी में प्रतिष्ठा पितामह पंडित गुलाबचन्द पुष्प जन्म शताब्दी महोत्सव वर्ष के अंतर्गत 19 अक्टूबर से 26 अक्टूबर तक सिद्धार्चना ब्र. जय कुमार जी निशांत भैया के निर्देशन में  भक्ति- श्रद्धा के साथ आयोजित की जा रही है।
शुक्रवार को सिद्धार्चना में प्रातः बेला में मंगलाष्टक, पात्र शुद्धि के बाद अभिषेक, शांतिधारा की गई।
शांतिधारा करने का सौभाग्य सेठ नरेंद्र कुमार जैन मैनवार एवं श्री राजकुमार जैन इंदौर ने प्राप्त किया। विधान हेतु अनेकांत महिला मंडल टीकमगढ़ ,कांतिश कुमार जैन सागर एवं  नरेंद्र कुमार जैन मैनवार ने द्रव्य समर्पित की।
    विधि   विधान प्रतिष्ठाचार्य विनोद कुमार जैन रजवांस,  पं.मनीष जैन संजू टीकमगढ़, पंडित इंद्र कुमार  ककरवाहा , पंडित अजित कुमार जैन बड़ागांव एवं दिनेश दिवाकर ने संपन्न कराया।
श्री नवागढ़ गुरुकुलम के सभी छात्रों ने आज अभिषेक एवं पूजा का सौभाग्य प्राप्त किया।
       आज सिद्ध चक्र महामंडल विधान सिद्धार्चना में 32 अर्घ्य के माध्यम से आराधना की गई।
इस मौके पर मुख्य अतिथि के रूप में  ज्ञानचंद जैन , इंजीनियर सुरेंद्र कुमार  एवं जिनेंद्र कुमार रहे । इंदौर से पंचबालयति जिनालय के ब्र. जिनेश  मालैया, ब्रह्मचारी राजेश भैया एवं ब्रह्मचारिणी बहन शशि  दीदी ने आज के विधान में सम्मिलित होकर सभी का गौरव बढ़ाया । महोत्सव के पुण्यार्जक इंजी शिखरचंद जैन, श्रीमती पुष्पा जैन, इंजी. अविनाश जैन, अलका जैन बेंगलुरु, डॉ आलोक जैन-इंजी. विधु जैन रांची हैं।
प्रश्नोत्तरी पुस्तिका का लोकार्पण :  इस विशेष वर्ष 2023-24 में होने वाले आचार्य शांति सागर जी महाराज आचार्य शताब्दी महोत्सव,   गणेश प्रसाद जी वर्णी का 150 वी जन्म जयंती एवं पंडित गुलाबचंद जी पुष्प के जन्म शताब्दी समारोह के उपलक्ष्य में एक प्रश्नोत्तरी का लोकार्पण अतिथियों एवं विद्वानों द्वारा किया गया ।  पंडित गुलाबचंद जी पुष्प प्रतिष्ठाचार्य के सम्मान में प्रकाशित ग्रंथ पुष्पांजलि के जिज्ञासा समाधान को अलग से प्रकाशित कर लोकार्पण किया गया।
विधान पुण्यार्जक परिवार, प्रागैतिहासिक तीर्थक्षेत्र कमेटी नवागढ़ एवं नवागढ़ गुरुकुलम के पदाधिकारियों ने अतिथियों का स्वागत किया। उक्त जानकारी प्रचारमंत्री डॉ सुनील संचय ने दी। इस मौके पर सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालु मौजूद रहे।
नवागढ़ में आज से त्रिदिवसीय विद्वत् संगोष्ठी का आयोजन : प्रागैतिहासिक अतिशय क्षेत्र नवागढ़ विकासखंड महरौनी में प्रतिष्ठा पितामह पंडित गुलाबचन्द पुष्प जन्म शताब्दी महोत्सव वर्ष के अन्तर्गत 21 से 23 अक्टूबर तक त्रिदिवसीय विद्वत् संगोष्ठी का आयोजन ब्र. जय निशांत भैया जी, डॉ श्रेयांस कुमार जैन बड़ौत के निर्देशन में किया जा रहा है। संगोष्ठी के संयोजक डॉ सुनील संचय ललितपुर ने बताया कि संगोष्ठी में 35 विद्वानों को आमंत्रित किया गया है जो तीन दिन में अपने-अपने शोधालेख प्रस्तुत करेंगे। संगोष्ठी का शुभारंभ 21 अक्टूबर को विधिवत रूप से किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here