समाज में व्यक्ति की नहीं व्यक्तित्व की कमी है

0
63

श्री भारतवर्षीय दिगंबर जैन (धर्मसरंक्षणी) महासभा के राष्ट्रीय कार्याध्यक्ष रमेश जैन तिजारिया एवं राजस्थान के अध्यक्ष कमल बाबू जैन की अगुवाई में दिगम्बर जैन महासभा के सदस्यों ने 24 अक्टूबर को भट्टारक जी की नसियां जयपुर में आचार्य 108 सौरभ सागर जी महाराज के दर्शन कर मंगलमय आशीर्वाद लिया, कार्यक्रम में संयुक्त मंत्री महेंद्र बैराठी ने जानकारी दी कि इस अवसर पर आचार्य श्री ने अपने आशीर्वचन में श्रावकों को सम्बोधित करते हुए बताया की समाज में व्यक्ति की नहीं व्यक्तित्व की कमी है जिसका विकास किया जाना चाहिए, उन्होंने कहा कि महत्वपूर्ण यह नहीं कि ‘क्या किया है’ उससे ज्यादा महत्वपूर्ण यह है कि ‘आगे क्या करना है’। हर पीढ़ी में परिवार से कम से कम एक सदस्य को समाज के लिए आगे आना चाहिए तभी समाज उन्नति कर सकेगा। हम अपने धर्म व अधिकारों की रक्षा तभी कर सकेंगे जब समाज के सभी वर्ग एक झंडे के तले इकट्ठा हो जाएंगे। कार्यक्रम में इससे पूर्व धर्म संरक्षणी महासभा राजस्थान अंचल के अध्यक्ष कमल बाबू जैन ने आचार्य सौरभ सागर जी महाराज के बचपन से ही त्याग व उनके जीवन चरित्र के बारे में बताया और महासभा के राजस्थान अंचल के कार्यकलापों की जानकारी दी। महासभा के राष्ट्रीय कार्याध्यक्ष रमेश जैन तिजारिया ने महासभा के 130 साल पूर्व 1894 में गठन व रजिस्ट्रेशन एवं विभिन्न कार्यों के बारे में जानकारी देते हुए बताया की महासभा ने बड़ी संख्या में जीर्णशीर्ण मंदिरों का पुनरुद्धार किया है। कार्यक्रम में कमलचंद जैन बोहरा ने मंगलाचरण एवं राजेंद्र जैन अनोपडा ने शानदार भजनों की प्रस्तुति पेश की,कार्यक्रम का संचालन राजस्थान अंचल के महामंत्री राजेंद्र बिलाला ने किया एवं महाराज श्री के प्रति कृतज्ञता व सभी को धन्यवाद मंत्री भागचंद जैन मित्रपुरा ने दिया।इस अवसर पर समाज श्रेष्ठीजनों की सहभागिता दर्ज की गई । कार्यक्रम में चातुर्मास समिति के संयोजक राजीव जैन गाजियाबाद, अध्यक्ष आलोक तिजारिया, राजस्थान युवा जैन महासभा के अध्यक्ष प्रदीप जैन, महामंत्री विनोद जैन कोटखावदा, महासभा के उपाध्यक्ष सुनील बक्सी, मंत्री राजेन्द्र पापड़ी वाल, धर्म जागृति संस्थान के प्रांतीय अध्यक्ष पदम बिलाला,कमल जैन, सुरेश बज, अरुण जैन अनिल जैन, मनीष वेद, राजीव लाखना, तथा महासभा के प्रतिनिधि प्रवक्ता राजबाबू गोधा सहित अनेक गणमान्य जनों एवं महिलाओं की भागीदारी रही।

राजाबाबु गोधा जैन गजट संवाददाता राजस्थान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here