मृत अवस्था में हुई गाय को जैन मुनि गणाचार्य विराग सागर महाराज ने जीवन दान दिया

0
27

नैनंवा संवाददाता महावीर सरावगी द्वारा
10 जनवरी सोमवार 2024
मुनि के बिहार के समय
, जैन मुनि गणाचार्य 108 विराग सागर जी महाराज से*दरगुवा* गांव से कडाके की सर्दी में विहार करते हुए बडामलहरा गांव की ओर बिहार के समय रास्ते में सड़क किनारे एक गाय पड़ी हुई थी
धन्य जैन मुनि हर जीव के प्रति दया भाव रखने वाले मुनि ने जैसे ही गाय को देखा वहीं पर पूरा संघ को रोककर मृतक अवस्था में पड़ी हुई गाय को देखा

मुनिराज ने गाय के करीब पहुंचकर गाय के कानों में णमोकार महामंत्र को सुनाया अपने कमंडल से पानी निकाल कर पानी पिलाया उसके पीने से गाय को चेतना अवस्था आ गई

कुछ ही देर में गाय ने अपनी आंखें खोली खड़ी होकर दौड़ने लगी धन्य है ऐसे गुरुदेव जब मृत्यु होने वाली गाय माता को जीवन दान दे दिया
पैदल चलने वाले सभी जैन श्रावक बंधु चमत्कार देखकर बहुत प्रसन्न हुए

महावीर कुमार जैन सरावगी जैन गजट संवाददाता नैनवा जिला बूंदी राजस्थान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here