दुनिया ईंट का जवाब ईंट से देती है :- गुरु मां विज्ञाश्री माताजी

0
21

श्री दिगम्बर जैन सहस्रकूट विज्ञातीर्थ गुन्सी , जिला – टोंक (राज.) में भक्तों के द्वारा श्री 1008 शांतिनाथ महामण्डल विधान का आयोजन निरन्तर चल रहा है । गुरु मां के सान्निध्य में शांति विधान करने का सौभाग्य दिनेश जी झिलाई वालों को प्राप्त हुआ । सपरिवार ने 120 अर्घ्य चढाकर शांति प्रभु की विशेष आराधना की । गुरु भक्त कुसुम जी चूड़ीवाल गुहाटी ने पूज्य गुरु माँ की आहारचर्या का लाभ प्राप्त किया । श्रावक श्रेष्ठी प्रेमचन्द जी देवली वालों ने गुरु माँ का वात्सल्यमयी आशीर्वाद प्राप्त किया।
गुरु माँ ने अपने उद्बोधन में कहा कि – संसार एक बहुत बड़ा घना जंगल है । और हमारा दिल एक आईने की तरह है । जंगल में यदि हम जोर से आवाज लगाते हैं तो ईको की तरह आवाज गूँजकर हमें ही सुनाई पड़ती है । ऐसा ही यह संसार है । यहाँ हम जो लोगों को देते हैं , लोगों से प्रतिफल में वहीं पाते हैं । दुनिया ईंट का जवाब ईंट से ही देते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here