भगवान महावीर के उपदेशों की आज अति आवश्यकता है

0
21

श्रीमती गुणमाला सरावगी धर्मपत्नी महावीर सरावगी जैन गजट संवाददाता नैनवा

नैनवा जिला बूंदी 13 अप्रैल 2024
भगवान महावीर स्वामी का जन्म जयंती महोत्सव 2623 व संपूर्ण भारतवर्ष में हम मनायेंगे वर्तमान शासन नायक 24 तीर्थंकर के शासन काल में संसार के सभी प्राणियों को अपने दिव्य देशना मे भगवान ने बताया
सभी जिओ पर दया करना प्राणी मात्र पर दया करना एक धर्म है
समस्त प्रकार के जिमीकंद का त्याग करना छोटे-छोटे जियो की रक्षा करना भगवान महावीर ने बताया
सभी जातियों से भगवान महावीर ने हमारी अलग ही पहचान बनाई कि हम जैन हैं
1 प्रतिदिन देव दर्शन करना
2 रात्रिभोजन का त्याग करना * 3 पानी छानकर पीना 4 सभी प्रकार की जमीकंद वस्तु का त्याग करना
सभी जैन भाइयों की मुख्य पहचान भगवान महावीर ने बताई हम सभी का जयंती महोत्सव मानना तभी सार्थक के जब हम उनके बताए हुए शत उपदेशों मार्गदर्शन को जीवन में उतार कर चले आज की युवा माताऐ अपने छोटे-छोटे नन्हे नन्हे बच्चों को अपने हाथ की उंगली पड़कर उन्हें जीनालय लेकर दर्शन करावे तभी वह भगवान महावीर का मार्ग जान पाएंगे

तभी वह बच्चे युवा होकर हमारे बुढ़ापे में हमें तीर्थ वंदना तीर्थ क्षेत्रों के दर्शन कर पाएंगे उन्हें धर्म का मार्ग बताने वाली मा है
जो आज अपने कर्तव्य से विमुख हो रही है आप सभी माता बहनों से मेरा विनम्र निवेदन है की छोटी सी उम्र में बच्चों को जीनालय लेकर मार्ग जरूर बताएं तभी वह आपकी हमारी और धर्म की पहचान बना पाएंगे
तभी नन्हे मुन्ने बच्चे जयंती महोत्सव में भाग ले पाएंगे

गुणमाला जैन सरावगी नैनवा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here