आम खाने के फायदे और नुक़सान

0
132

जैसे कि आप सभी जानते है दुनियां में सबसे ज्यादा आम भारत में पाए जाते है।कहा जाता है कि भारत में लगभग 4000 वर्षो से आम की खेती की जाती है।और अकेले भारत में ही सैकड़ों प्रकार की आम की प्रजातिया पायी जाती है। और सभी का अलग अलग स्वाद और रंग है।

आम को फलों का राजा क्यों कहते है आप को यह जानकर खुशी होगी कि आम को फलों का राजा इसलिए कहा जाता है क्योंकि ये फल स्वादिष्ट होने के साथ साथ अपने अन्दर सैकड़ों लाभकारी गुण समेटे बैठा है।जिसमे की आज हम इसके प्रभावशाली गुणों के बारे में बताएंगे जो कि बहुत ही ज्यादा खास है।और अगर आपने आम के इन प्रभावशाली गुणों को जान लिया तो आपके अंदर आम के प्रति सम्मान और भी ज्यादा बड़ जाएगा ।

आम के बारे में कुछ अनसुनी बातें हैं पहले इन पर एक नजर डालते है

आम को सभी फलों का राजा स्वीकार किया गया है और इसके लिए सभी फलों की सहमति ली गई थी.
क्या आप जानते है आम का पेड़ 100 फुट तक बढ़ सकता है और ये 300 साल तक जीवित रह सकता है.
आम 4000 साल पहले भारत में उगाया गया था जिसके बाद ये पूरी दुनियां में अपने गुणों और शख्त मिठास के चलते प्रचलित हो गया।

क्या आपको मालूम है कि भारत में आम के पत्तों का इस्तेमाल शादियों में भी किया जाता है ताकि विवाहित जोड़े को संतान की प्राप्ति हो सके. आम के 100 प्रकार पाए जाते है जो कि भारत समेत पूरी दुनियां में खाये जाते है और सभी का अलग रंग और अलग स्वाद होता है

फायदे –

कैंसर जैसी भयानक बीमारी से लडने में मदद
आम कैंसर जैसी भयानक बीमारी से लडने में हमारी मदद करता है। क्योंकि आम के अन्दर एंटीऑक्सिडेंट पाए जाते है जैसे कि आइसोक्वेरिट्रिन, क्वेरसेटिन, फिसेटिन, गैलिक एसिड, मिथाइल, एस्ट्रैगलिन और गेलेट आम के ये सभी गुण हमारे शरीर को पेट के कैंसर, स्तन कैंसर, प्रोस्टेट कैंसर जैसी भयानक बीमारी से बचाता है।
खाने को सही तरीके से पचाने में मदद
खाने को जल्दी पचाने में आम एक अहम भागीदारी पेश कर सकता है। क्योंकि आम के अन्दर इसे ऐसे एंजाइम्स होते है जो कि प्रोटीन को छोटे छोटे टुकड़ों में तोड़ देते है जिससे हमारा पाचन तंत्र खाने को जल्दी पचा लेता है, और क्या आप जानते है हरे आम के अन्दर पके हुए आम की तुलना में ज्यादा पेक्टिन फाइबर पाया जाता है।
ह्रदय को सुरक्षा प्रदान करना
आम के अन्दर भरपूर मात्रा में पोषक तत्त्व पाए जाते है जो कि हमारे हॄदय(दिल) को बहुत सी बीमारियों से बचाते है, ये हमारे शरीर को पोटेशियम और मैग्नीशियम प्रदान करता है जो कि एक स्वस्थ नाड़ी को बनाए रखने में काफी मदद करता है और रक्त वाहिकाओं को निम्न रक्तचाप (यानि लो ब्लड प्रेशर) के स्तर को बढ़ावा देता है।
रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा देना
आम को एक अच्छा इम्यूनिटी बूस्टर भी कहा जाता है अगर आप पूरे दिन भर में 165 ग्राम आम का जूस पीते हो तो ये आपके पूरे दिन भर की विटामिन ई की ज़रूरत का 10% भाग को पूरा करता है
आंखो की रोशनी बढ़ाने में बढ़त और उनको सुरक्षा प्रदान करना
आम के अन्दर ज़ेक्सैंथिन, ल्यूटिन,और विटामिन ए पाया जाता है।ज़ेक्सैंथिन और ल्यूटिन हमारी आखो को सूरज की हानिकारक किरणों से बचाता है। और विटामिन ए से हमारी आखों की रोशनी को बढ़ाने में मदद मिलती है।
वजन बढ़ाने में सहायक
जो लोग अपने वजन से परेशान रहते है दुबले पतले है उनके लिए आम बहुत ही लाभकारी साबित हो सकता है, आप आम और दूध का शेक बना कर पी सकते है इससे आपके शरीर को कम वजन की समस्या से छुटकारा मिल जाएगा। अगर आप एक महीने तक लगातार मैंगो मिल्क शेक पीते है तो इससे आपको अपने शरीर पर काफी अच्छा असर देखने को मिलेगा और अपका वजन बढ़ने लगेगा।
नई रक्त कोशिकाओं का निर्माण
आम के अन्दर विटामिन बी 6 और विटामिन सी पाया जाता है जिसके कारण आम नई रक्त कोशिकाओं के निर्माण में काफी फायदेमंद है और आम एनीमिया, हेजा जैसी घातक बीमारी से लडने के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करता है

क्या आप जानते है आम के अन्दर एक दर्जन से भी ज्यादा अलग अलग प्रकार के पॉलीफेनोल्स होते है जो कि बहुत ही ज्यादा शक्तिशाली होते है

(पॉलीफेनोल्स: पॉलीफेनोल्स क्या होता है दरअसल ये हमारे शरीर के अंदर एंटीऑक्सिडेंट के रूप में काम करते है)

हमारे बालों और त्वचा के लिए फायदेमंद
आम के अन्दर विटामिन ए पाया जाता है जो कि हमारी त्वचा और बालों के लिए काफी फायदेमंद होता है और ये हमारी त्वचा में झुर्रियों को आने से भी रोकता है और बालों को स्वस्थ रखने में मदद करता है
शारीरिक क्षमता को बढ़ाने में मदद
आम पुरुषों और महिलाओं के लिए काफी फायदेमंद होता है आम के अन्दर विटामिन ई, फोलिक एसिड विटामिन बी 6,और पॉलीफेनोल्स पाया जाता है जो कि पुरुषों और महिलाओं के बांझपन को बढ़ाने में मदद करता है एक शोध के अनुसार ये पाया गया है कि जिन पदार्थों को सेक्स जीवन में सुधार के लिए जाना जाता है, वे सभी इन पोषक तत्वों की उपस्थित के कारण है क्या आप जानते है आम जब कच्चा होता है तो उसमे विटामिन सी की मात्रा अधिक मात्रा में पाई जाती है वहीं जब एक आम पूरी तरह से पक जाता है तो आम के अन्दर विटामिन ए की मात्रा अधिक हो जाती है
आम इसका हिन्दी नाम है लेकिन आम का वैज्ञानिक नाम मेंगीफेरा इंडिका है। पूरी दुनिया में फलों में सबसे ज्यादा खाया जाने वाला फल आम ही है। जो कि पूरी दुनियां में सबसे ज्यादा खाया जाता है। क्या आप जानते है भारत के साथ साथ पाकिस्तान और फिलीपींस का राष्ट्रीय फल आम है। पूरी दुनियां में सबसे ज्यादा आम भारत में होते है। क्या आप जानते है भगवान बुद्ध ने भी आम के पेड़ के नीचे बैठ कर तपस्या करी थी।

ज्यादा आम खाने के नुकसान

  • अगर आपने हद से ज्यादा आम खा लिए तो इससे क्या हो सकता है जैसे कि आप सभी जानते है कि हर चीज़ को खाने की एक लिमिट होती है और उसको एक लिमिट में खाया जाता है और अगर आपने आम को हद से ज्यादा खा लिया तोह इससे आपको पेचिस, अपच उल्टी भी हो सकती है
  • ध्यान रहे अगर आपने ज्यादा आम खा लिए तो इससे आपका ब्लड शुगर लेवल बढ जाएगा , अगर आप डाइबिटीज के मरीज़ है तो आपको ज्यादा आम नहीं खाने चाहिए|
  • अगर आप ज्यादा आम खाते है तो इससे आपका वजन भी बढ सकता है।
  • क्या आप को इस बात का पता है कि जिन मरीजों को डाइबिटीज होती है उनको कम से कम आम खाने की सलाह दी जाती है।
  • ज्यादा आम खाने से कील मुहासी भी निकल सकते है इसलिए संतुलित मात्रा में ही आम खाए.
  • जिन लोगो को आम खाने से एलर्जी हो जाती है वो दिन में बस एक ही आम खाए ज्यादा आम खाने से बचें.

नशा उतारने में आम फायदेमंद

क्या आप जानते है अगर आपने ज्यादा ड्रिंक कर ली और अब आपको ज्यादा नशा चढ़ गया तो नशे के प्रभाव को कम करने के लिए भी आम का सेवन करवाया जाता है आम का सेवन करने से नशे का हैंगओवर कम हो जाता है.अक्सर देखा जाता है लोग शादियों और पार्टियों में ज्यादा मात्रा में ड्रिंक कर लेते है और उनका नशा कम करने के लिए तब आम काफी कारीगर साबित हो सकता है

विद्यावाचस्पति डॉक्टर अरविन्द प्रेमचंद जैन ,संरक्षक शाकाहार परिषद्

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here