युग शिरोमणि का मंगल विहार

0
183

युग श्रेष्ठ संत शिरोमणि प. पु. आचार्य श्री १०८  विद्यासागर जी  महामुनिराज एवं ससंघ का १७ जनवरी  चौधरी लान प्रवचन मे आचार्य श्री ने कहा ” श्री दि जैन सिध्द क्षेत्र कुंडलपुर दमोह मप्र मे १७ जनवरी २००६ को मतलब १७ साल पहले  कुंडलपुर  के बड़े बाबा को पूरा विश्व की नजर थी इतनी विशाल प्रतिमा कैसे नए मंदिर मे  विराजमान होगी लेकिन यह कार्य भक्तो की भक्ति से पूर्ण हुआ और ये ऐतिहासिक दिन माना जाता है ” सुमत लल्ला जैन ने बताया  १७ जनवरी  आहारचर्या , सामायिक उपरांत चौधरी लान से  कापसी भंडारा रोड  के पास  विहार हुआ।

संघ  की जानकारी देते हुए बताया सैकड़ो किलोमीटर पदविहार करते हुए  १७  जनवरी को चौधरी लान मे आहार देने का सौ.भाग्य पुण्य  उर्मिला नरेन्द जैन ,संगीता प्रवीण जैन ,अर्चना प्रशांत जैन (बंटी ) नागपुर परिवार को प्राप्त हुआ. रात्री १७ जनवरी  विश्राम गुरुकृपा लॉजिस्टिक एंड ट्रेडर्स कापसी मे है , एवं १८ जनवरी  की आहारचर्या एस. एस.फ़ूड भंडारा रोड  में संपन्न होगी, इस पदविहार मे श्री दिगंबर जैन परवार मंदिर ट्रस्ट , पाषण मंदिर नवनिर्माण  समिति, आचार्य विद्यासागर संस्कार केंद जैन महावीर पाठशाला ,ज्ञानोदय सेवा संघ, जैन मिलन परिवार, वीरा फ्रेंड्स , प्यारे  ग्रुप , महिला मंडल आदि   सैकड़ो भक्त भी  शामिल है  समाज के सभी धर्म प्रेमी बंधू समय पर उपस्तिथ रहकर धर्म लाभ ले / श्री दि.जैन शीतलनाथ  मंदिर नागदा समाज की ओर से भक्तो को स्वल्प आहार वितरित किया जा रहा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here