राष्ट्र के ख्याति प्राप्त जैन ज्योतिष आचार्यों का सम्मान मनुष्य की आकांक्षाओं का समाधान ज्योतिष शास्त्र में उपलब्ध: आचार्य विवेक सागर जी महाराज

अखिल भारतीय जैन ज्योतिषाचार्य परिषद का उद्देश्य जैन आगम का प्रचार प्रसार: रवि जैन गुरुजी

0
92

20अगस्त 2022 – श्री दिगंबर जैन मंदिर वरुण पथ मानसरोवर में चल रहे चातुर्मास के अंतर्गत विराजमान परम पूज्य आचार्य गुरुवर विवेक सागर जी महाराज ने उपस्थित बंधुओं एवम देश भर से आए जैन ज्योतिष आचार्यों को मंगल आशीष प्रदान किया। इस अवसर पर अखिल भारतीय जैन ज्योतिषाचार्य परिषद (पंजी) की समस्त कार्यकारिणी ने परम पूज्य गुरुदेव विवेक सागर जी महाराज के सानिध्य में ज्योतिष सेमिनार आयोजित की गई इस कार्यक्रम में राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री रवि जैन गुरुजी दिल्ली, संरक्षक प्रोफेसर डॉक्टर टीकम चंद जैन पचेवर, कोषाध्यक्ष सुमेर चंद जैन, सलाहकार देवेंद्र कुमार जैन दिल्ली, जगदीश प्रसाद जैन प्रधान, पं प्रवीण जैन, ऋषभ जैन, सलाहकार राकेश जैन, पंडित चक्रेश जैन, पंडित दीपक जैन शास्त्री, पंडित धीरज जैन, पंडित संजय जैन पावला, रविंद्र जैन दिल्ली, पंडित महावीर कुमार छाबड़ा रानीपुरा, पंडित कैलाश चंद्र छाबड़ा दुर्गापुर ने भाग लिया इस अवसर पर संस्थापक अध्यक्ष रवि जैन गुरुजी ने कहा कि परिषद का उद्देश जनमानस को जैन धर्म से जोड़ना है ।देव शास्त्र गुरु की सभी सेवा करें व जनमानस में ज्योतिष को लेकर जो भ्रांति फैली है उसको दूर करें। साथ ही जैन धर्म के चारों संप्रदाय को साथ लेकर चलना मुख्य उद्देश्य है।

इस अवसर पर कार्यकारिणी के अध्यक्ष एवं संरक्षक ने धर्म सभा में ज्योतिषाचार्य परिषद के सभी सदस्यों का धन्यवाद किया । श्री दिगंबर जैन मंदिर वरुण पथ मानसरोवर मैं आयोजित आज धर्म सभा में पधारे हुए सभी सम्मानीय अतिथियों का तिलक, माल्यार्पण एवम शाल पहनाकर स्वागत एम पी जैन, कैलाश सेठी, हेमेंद्र सेठी,राजेंद्र सोनी, विनेश सोगानी, बीरेश जैन टीटी, दीपक पहाड़िया, अनील दीवान, महावीर पाटनी सुरेश चंद जैन बांदीकुई, गिरीश जैन,सतीश कासलीवाल, संतोष कासलीवाल आदि ने किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here