टोंक के प्रकाश पटवारी जी ने णमोकार लेखन में स्वर्ण पदक प्राप्त किया

0
64

राणा, प्रताप, मीरा और पन्नाधाय के तप त्याग और साधना की पावन वसुंधरा राजस्थान प्रांत की गुलाबी नगरी जयपुर में
श्री णमोकार महामंत्र बैंक जंबूद्वीप हस्तिनापुर मेरठ उत्तर प्रदेश द्वारा संचालित जयपुर में 25 वां महामंत्र लेखकों का सम्मान समारोह में णमोकार बैंक समिति जयपुर में शोभागमल जैन अजमेरी वाले, त्रिलोकचंद जैन, मंजू जैन आदि को स्वर्ण पदक, एवं मुकेश कुमार जैन बागड़ी वाले ,नगीना जैन को रजत पदक प्रदान कर सम्मानित किया गया। समिति के अध्यक्ष श्री रतनलाल जी कोठारी, मंत्री बाबूलाल जी उपाध्यक्ष हरकचंद जैन आदि गरीमामई उपस्थिति में टोंक के प्रकाश पटवारी जैन आदि को स्वर्ण पदक देकर भाव भीना अभिनंदन कर सम्मानित किया गया । । राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी पारस जैन पार्श्वमणि पत्रकार कोटा को जानकारी देते हुए प्रकाश पटवारी टोंक ने बताया कि वर्ष 2015 से अनवरत णमोकार लेखन करने में लगे हुए है अभी तक उन्होंने चार लाख 59 हजार बार णमोकार लेखन किया है तथा हर बार स्वर्ण पदक प्राप्त किया है अनादि निधन महामंत्र णमोकार प्राकृत भाषा में लिखा हुआ है संसार के सभी मंत्रो का सार णमोकार महामंत्र है। इस उपलब्धि पर प्रकाश पटवारी जी के उज्जवल भविष्य की मंगलमय कामना करते हैं।
प्रस्तुति
पारस जैन पार्श्वमणि कोटा राजस्थान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here