सोनीनगर में पंचकल्याणक प्रतिष्ठा में आज गर्भ कल्याणक उत्तरचक्रवती की दिग्विजय यात्रा

0
13

अजमेर 29 जनवरी, 2024 श्री आदिनाथ दिगम्बर जैन मन्दिर समिति, सोनीनगर अजमेर  के नवनिर्मित प्रथम तल पर जिनालय का भव्य पंचकल्याणक प्रतिष्ठा महामहोत्सव में आज पंचकल्याणक पांडाल में सप्तम पटृाधीष आचार्य श्री विवेकसागरजी महाराज ने दूसरे दिन उत्तर गर्भ कल्याणक के अवसर पर विषाल धर्म सभा को संबोधित करते हुये कहा कि जीवन में संस्कार महत्वपूर्ण होते है संस्कारों से ही पूज्यता प्राप्त होती है आज हमें यह मनुष्य जीवन भी मिला है तो पूर्व जन्म के धर्म संस्कार व परिवारजनो की आराधना नमस्कार करने से मिला है सुन्दर रूप उनकी भक्ति करने से प्राप्व्त होता है ।
आगे आचार्य श्री ने कहा कि गर्भस्थ अवस्था में जब षिषु रहता है तो उस पर हमारी बाह्य क्रियाओं, आचरण, विचारो का प्रभाव पडता है अभिमन्यु के गर्भस्थ समय के संस्कारो के प्रभाव की चर्चा करते हुये कहा कि चक्रव्यूह को तोडने की कला गर्भ में रहते हुये ही सीखी थी । आज के समय में गर्भ के समय महिलायें आराम डाक्टरों की सलाह से करती है तो मोबाईल चलाती रहती है और फिल्म और सीरियल देखती रहती है जिसका प्रभाव उस संतान पर पडता है तो वह छः माह का होते हुी वह मां का मोबाईल खींचने लगता है तो बताइये जब मां गर्भ के समय अनेक प्रकार के सीरियल देखती है तो उसमें डाकू, व्यभिचार, मारकाट आदि देखती है तो वहीं संस्कार उन बच्चों पर भी पड जाते है ।
गर्भ के समय धार्मिक क्रिया कलाप करें, भगवान की भक्ति करे जिससे संतान सदाचारी बने । आज सुबह इन्द्र दरबार व राज्य दरबार लगाया गया जिसमें अनेक समस्याओं के समाधान प्रष्न उतर के माध्यम से राजाओ द्वारा किये गये ।
प्रचार प्रसार मंत्री संजय कुमार जैन व प्रवक्ता कमल गंगवाल ने बताया कि आज प्रातः सोनीनगर पंचकल्याणक पांडाल में जिनेन्द्र अभिषेक सभी पात्रों द्वारा किये गये तथा वृहषान्तिधारा करने का सौभाग्य महावीर किरण लुहाडिया परिवार द्वारा की गयी । तत्पष्चात सरावगी मोहल्ला इकाई द्वारा सुन्दर मंगलाचरण प्रस्तुत किया गया ।
दोपहर में 2 बजे श्री याज्ञमंडल विधान प्रतिष्ठाचार्य कुमुदचंद सोनी के निर्देषन में संगीतकार केषव एंव नाटककार संजय साजन के निर्देषन में 250 अर्घ सभी मुख्य पात्रों द्वारा मांडने पर समर्पित किये गये ।

चक्रवर्ती द्वारा दिग्विजय यात्रा
मुख्य संयोजक मनोज अजमेरा ने बताया कि आज सुबह 11 बजे दिग्विजय यात्रा चक्रवर्ती अजित जैन परिवार हाथी पर सवार व दो घोडे की बग्गियों में महामंडलेष्वर पुखराज सेठी संजय कुमार जैन, मोहनलाल जैन, प्रकाष पल्लीवाल सवार होकर बैण्ड बाजे, ढोल आदि सैकडों नर नारी जुलूस के रूप में सोनीनगर मन्दिरजी पांडाल से प्रारंभ हुई जो फाईसागर रोड, बीके कोल अम्बे बिहार कालोनी, श्रीजी बिहार होती हुई वापिस पांडाल तक पहुंची जिसमें चक्रवर्ती द्वारा रत्नों की वृष्टि की गयी तथा रास्तें में मनुहार भी की गयी ।
हाथी पर महाआरती
प्रचार मंत्री संजय कुमार जैन ने जानकारी दी कि सांय 6 बजे रामनगर से हीराचंद मनोज कुमार कासलीवाल के निवास से गजरथ पर सवार होकर बग्गी , बैण्डबाजे व सैकडो नर नारी जुलूस के में महाआरती लेकर पांडाल पहुंचे जहां पर भगवान जी की महाआरती की गयी ।
कल जन्म कल्याणक पर्व मनाया जायेगा
अध्यक्ष डॉ. राजकुमार गोधा ने जानकारी दी कि सुबह 6.45 बजे नित्य नियम पूजन, अभिषेक, महाषान्तिधारा, आचार्यश्री के मंगल प्रवचन, इन्द्रसभा तथा माता द्वारा सौधर्म इन्द्र को बालक को सौपना तत्पष्चात श्रीजी को सिंहासन पर विराजमन का पांडुकषिला स्थित पांडाल में ले जाया जायेगा जहां पर जन्माभिषेक का कार्य प्रातः 11 बजे सम्पन्न होगा ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here