फागी कस्बे में आर्यिका श्रुतमति माताजी, आर्यिका सुबोधमति माताजी के पावन में जैन धर्म के 23वें तीर्थंकर भगवान पार्श्वनाथ का 2875 वां निर्वाणोत्सव मनाया हर्षोल्लास पूर्वक

0
48

फागी उपखण्ड के चकवाडा , चौरू, नारेडा, मंडावरी,मेहंदवास,निमेडा एवं लदाना सहित कस्बे में स्थित आदिनाथ जिनालय, पार्श्वनाथ जिनालय, मुनिसुव्रत नाथ मंदिर, त्रिमूर्ति मंदिर,पार्श्वनाथ चैत्यालय ,चंद्रप्रभु नसियां सहित कस्बे के सभी जिनालयों में जैन धर्म के 23 वें तीर्थंकर भगवान पार्श्वनाथ का मोक्ष कल्याण दिवस हर्षोल्लास से मनाया गया , जैन महासभा के प्रतिनिधि राजाबाबू गोधा ने उक्त कार्यक्रम में शिरकत करते हुए कहा कि आर्यिका श्रुतमति माताजी, आर्यिका सुबोधमति माताजी स संघ के पावन सानिध्य में आज प्रातः श्री जी का अभिषेक, शांति धारा बाद श्री कल्याण मंदिर विधान की पूजा की गई इसी कड़ी में पहली बार अजब संयोग बना जिसमें जैन धर्म के 23 वें तीर्थंकर भगवान पार्श्वनाथ के समक्ष, 23 अगस्त को 23 किलो का 2875 वां निर्वाणोत्सव का लाडू चढ़ाया गया,गोधा ने अवगत कराया कि उक्त महोत्सव में कैलाशचंद,सुरेंद्र कुमार, मनोज कुमार पंसारी फागी निवासी ने बोली के माध्यम से श्री जी के समक्ष 23 किलो का लाडू चढ़ाकर पुण्यार्जन प्राप्त किया साथ ही सारे सकल समाज ने जयकारों के साथ सामूहिक रूप से निर्वाण का लाडू चढ़ाकर पुण्यार्जन प्राप्त किया। कार्यक्रम में चार्तुमास समिति के अध्यक्ष अनिल कठमाना ने अवगत कराया कि जैन धर्म के अनुसार इस पर्व को मुकुट सप्तमी या मोक्ष सप्तमी भी कहते हैं, इस दिन कुंवारी कन्याएं मोक्ष सप्तमी का उपवास करती है। कार्यक्रम में वयोवृद्व कपूर चंद्र जैन मांदी वाले, समाजसेवी सोहनलाल झंडा, कैलाश चंद पंसारी, अग्रवाल समाज के अध्यक्ष महावीर झंडा, प्रसन्न कुमार पीपलू, हेमराज कलवाड़ा, रतनलाल नला, पंडित संतोष बजाज, रामावतार कठमाना, महावीर लदाना, राजेंद्र कलवाडा, पारस नला,महेंद्र बावड़ी,कमलेश जैन कठमाना, धर्मचंद पीपलू,मोहनलाल सिंघल, अनिल जैन कठमाना, मितेश लदाना,बंटी पहाडिया, विकास पहाड़िया, शैलेन्द्र कलवाड़ा, मनीष गोधा, कमलेश सिंघल,त्रिलोकचंद जैन पीपलू, कमलेश जैन चौधरी तथा राजाबाबू गोधा, सहित सारे समाज के श्रावक श्राविकाएं मोजूद थे।

राजाबाबु गोधा जैन महासभा मीडिया प्रवक्ता राजस्थान

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here