दया-करुणा का जीवन जीने से आत्म-कल्याण होगा: आचार्य प्रमुख सागर

0
75

गुवाहाटी : फैंसी बाजार स्थित भगवान महावीर धर्म स्थल मे विराजित आचार्य प्रमुख सागर महाराज ने रविवार को एक धर्म सभा में उपस्थित श्रद्धालुओं को संबोधित करते हुए कहा कि जब व्यक्ति बात-बात पर क्रोध करता है, गुस्सा करता है, इष्या भाव रखता है, दूसरों को नीचा दिखाता है, और धर्म रहित होता है ऐसे व्यक्ति कृष्णा लेश्या से अनुग्रहित होते है। उन्होंने कहा कि हमें अपने जीवन में यदि नर्क और त्रियंच गतियां के दुखों से बचाना है तो कृष्णा लेश्या के परिणाम नहीं करना चाहिए। हमे हमेशा दया-करुणा का जीवन जीना चाहिए और वैर की गांठ को  खोल कर रखना चाहिए तभी  आत्म कल्याण होगा। मालूम हो कि श्री दिगंबर जैन पंचायत गुवाहाटी के तत्वाधाम में आगामी 26 जनवरी से गुवाहाटी मे पंचकल्याण महोत्सव का आयोजन होने जा रहा है।इस अवसर पर श्री दिगंबर जैन यूथ फेडरेशन के सदस्यों ने शनिवार को नलबाडी़ मे विराजित श्रवण मुनि 108 श्री अरिजीत सागर महाराज के दर्शन कर आशीर्वाद लिया। तत्पश्चात यूथ के सदस्यों ने श्री दि.जैन पंचायत नलबाड़ी के पदाधिकारियों का फूलाम गमोंछा पहनाकर अभिनंदन किया तथा संकल्प ध्वजा प्रदान कर नलबाड़ी वासियों को गुवाहाटी में आयोजित होने वाले पंच- कल्याणक महोत्सव मे शामिल होने हेतु निवेदन किया। इस अवसर पर युथ के अध्यक्ष सौरभ अजमेरा, कार्यकारिणी अध्यक्ष विकास विनायक्या,भरत बड़जात्या, अमित जैन, आदि के अलावा महिला शाखा की समस्याएं उपस्थित थी। यह जानकारी समाज के प्रचार-प्रसार के मुख्य संयोजक ओम प्रकाश सेठी एवं सहसंयोजक सुनील कुमार सेठी द्वारा दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here